सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से मांगी दशहरे पर रावण दहन से होने वाले प्रदूषण की रिपोर्ट.

नमस्कार दोस्तों,

जैसा की आप जानते हैं की दो दिन बाद दशहरा है. ऐसे में रावण दहन और पटाखों से निकलने वाला धुंवा पर्यावरण के लिए काफी चिंता का विषय है. औद्योगीकरण और विकास की अंधी दौड़ ने हमारे पर्यावरण को काफी प्रभावित कर दिया है.

महानगरों में प्रदुषण इस हद तक पहुँच चुका है की जीवन देने वाली हवा भी जहरीली हो चुकी है. पर्यावरण के बिगड़ते स्वाभाव ने सभी बड़े देशों को चिंता में डाल रखा है. ऐसे में दशहरे और दीपावली में पटाखों की वजह से होने  वाला  प्रदुषण हालत को और बिगाड़ सकते हैं.

यही वजह है की सुप्रीम करत ने दिल्ली सरकार से त्योहारों से होने वाले प्रदुषण का दिल्ली की पर्यावरण पर होने वाले असर का जायजा लेकर रिपोर्ट पेश करने की मांग की है.

अभी तक दीपावली पर जलाये जाने वाले पटाखों से होने वाले प्रदुषण पर रोक की बात की जा रही थी. और अब दशहरे पर रावण के पुतला दहन से होने वाले प्रदुषण को रोकने के लिए सुप्रीम करत ने दोनों सरकारों से रिपोर्ट की मांग की है.

दिल्ली में शर्दियाँ शुरू होने से कुछ दिन पहले ही प्रदुषण का स्टार बढ़ने लगता है. और इसी दौरान दशहरा और दिवाली का त्यौहार भी आता है.ऐसे में दिल्ली सर्कार से कहा गया है की दशहरे में रावण दहन से होने वाले प्रदुषण पर एक कमिटी बनाकर रिपोर्ट तैयार करें.

पहले ही प्रदुषण का मार झेल रही दिल्ली के लिए दशहरा और दीपावली में जलने वाले पटाखों से हालत और बिगड़ जाती है.ऐसे में दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार से इस दौरान दिल्ली के वातावरण को होने वाले नुक्सान की जांच कर रिपोर्ट पेश करने की मांग की है. ताकि त्योहारों के दौरान होने वाले नुक्सान से bachne के लिए तैयारी की जा सके.

doston जाने से पहले मुझे फॉलो करना न भूलें. सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बारे में आपकी क्या राय है, आप मुझे कमेंट करके जरूर बताएं. धन्यवाद्.

Advertisements

अब बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी पर अज्ञात महिला ने लगाया दुर्व्यवहार का आरोप.

नमस्कार दोस्तों,

अब बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी पर #मीटू कैंपेन के तहत अनजान महिला ने लगाया दुराचार का आरोप.

#मीटू कैंपेन ने देश की बड़ी हस्तियों की हंसती खेलती ज़िन्दगी में एक ज़लज़ला सा ला दिया है. हर दिन एक नया चेहरा और नया नाम सामने आ रहा है. पर आरोप वही है. महिलाओं के साथ किया गया दुर्व्यवहार.आरोपों की इस सिलसिलेवार कड़ी में आज एक और नया नाम जुड़ा है. ये नाम भी ऐसा की सुनकर होश ही उड़ जायेंगे.

#मीटू कैंपेन के तहत, बीसीसीआई अर्थात भारतीय क्रिकेट कण्ट्रोल बोर्ड के सीईओ राहुल जोहरी पर एक अनजान महिला ने दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है. एक अज्ञात महिला लेखक द्वारा लगाए गए शोषण के आरोप के बाद अब राहुल जौहरी बीसीसीआई से छुट्टी पर जा रहे हैं.

खुदपर लगे आरोपों की सफाई देने के लिए प्रशासकीय समिति सीओए ने राहुल जोहरी को एक सप्ताह का वक्त दिया है. #मीटू के ट्विटर हैंडल पर के अन्य महिला ने अपने ट्विटर अकाउंट द्वारा स्क्रीनशॉट जारी किया था. इस स्क्रीन शॉट पर महिला ने जौहरी पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है. इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सीओए ने जौहरी को सात दिनों का वक्त दिया है. खुद पर लगे आरोपों के बाद से जौहरी ने बीसीसीआई मुख्यालय में स्थित अपने एक भी ऑफिस में कदम नहीं रखा है.

बीसीसीआई की तरफ से बताया जा रहा है अनजान महिला द्वारा जौहरी पर लगाया गया यह आरोप तब का है जब राहुल जौहरी, बीसीसीआई में नहीं थे. पर फिर भी कमिटी को ऐसा लगा की उन्हें इस मामले में अपना पक्ष रखने का मौका देना चाहिए.

कभी कभी दिमाग ये सोचने पर मज़बूर हो जाता है की एक साथ इतने औरतों का स्वाभिमान अचानक कैसे जाग उठा. सालों पहले हुए शोषण का आरोप लगाकर उनम अभी इन्साफ पाने की इच्छा क्यों जाग रही है. जहाँ तक मैं समझता हूँ कि जब जख्म लगता है तब का दर्द सबसे ज्यादा होता है और इंसान जख्म से निज़ाद पाने के लिए भरषक प्रयास करता है. कोई इंसान अपने सालों पुराने जख्म को याद करके आंसू नहीं बहा सकता. फिर यस सभी महिलाएं, इतने पुराने मामले खोद खोद कर कहाँ से आ रही हैं. और अब अचानक उन्हें इन्साफ कि याद क्यों आ रही है. यह बात थोड़ा हज़म करना मुश्किल है.

अब जब इन मामलों कि जांच के लिए केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने चार जजों कि एक कमिटी बनाने कि बात कही है, तो देखते हैं कि जांच में क्या सच सामने आता है.

दोस्तों यदि आपने अभी तक इस न्यूज़ को फॉलो नहीं किया है तो प्लीज फॉलो करें और अपना कीमती राय कमेंट करें.

आज है दुर्गा अस्टमी. जानिये कैसे करें माँ महागौरी को प्रसन्न.

जय माता दी.

दोस्तों, आज शारदेय नौरात्रि की अष्ठमी है. आज के दिन माँ दुर्गा के आठवें स्वरुप, माँ महागौरी की पूजा का विधान है. आइये जानते हैं माँ महादेवी की कथा एवं उनकी विशेष पूजा विधि.

माँ दुर्गा का आठवां स्वरुप है माँ महागौरी. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार माँ महागौरी की उपासना से इंसान को उसके हर पाप से मुक्ति मिल जाती है. कहते  हैं की भगवन शिव को पति रूप में प्राप्त करने के लिए माँ महागौरी ने कठिन तपस्या की थी.

इनकी इस कठिन तपस्या से इनका शरीर काला पद गया था. इनकी कठिन तपस्या से प्रशन्न होकर भगवन शिव नई इन्हे दर्शन दिया और इनके शरीर को कांतिमय कर दिया. उनके इस  उज्वल और कांतिमय गोर रंग की वजह से उनका नाम गौरी पड़ा. तभी से माता के इस स्वरुप को महागौरी के रूप में पूजा जाता है.

माना जाता है की माता सीता ने भगवान् राम को पति के रुप में पाने के लिए माँ महागौरी की पूजा की थी. माँ महागौरी श्वेत रंग की हैं और सफ़ेद रंग के वस्त्र पहनकर इनकी आराधना करना अत्यंत ही लाभकारी होता है. माँ महागौरी की आराधना से विवाह सम्बन्धी तमाम अड़चनों और समस्याओं का नाश हो जाता है.  ज्योतिष में माँ महागौरी का सम्बन्ध शुक्र गृह से माना जाता है.

माँ महागौरी की पूजा विधि : –

माँ महागौरी की पूजा पिले वस्त्र पहन कर करें. माँ के सामने दीपक जलाकर उनका शांतिपूर्ण ध्यान करें. ध्यान के पश्चात् माँ को पिले अथवा सफ़ेद फूल जढ़ायें और उनके मन्त्रों का उच्चारण करें . मध्यरात्रि में इनकी पूजा ज्यादा शुभ फलकारी होती है.

अस्टमी के दिन माँ को नारियल का भोग लगाएं. नारियल को सिर से घुमाकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें. मान्यता है की ऐसा  करने से व्यक्ति पर किसी के बुरी दृस्टि या बुरा साया हो तो वह हट जाता है और मनोकामना पूर्ण होती है.

माँ महागौरी को प्रशन्न करने के लिए पूजा के वक्त इस मंत्र का जाप करें :-

या देवी सर्व भूतेषु महागौरी रूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः

माता के सभी भक्तों को नवरात्र की हार्दिक सुबह कामनाएं. दोस्तों यदि अभी तक आपने मुझे फॉलो नहीं किया है तो प्लीज फॉलो बटन पर क्लिक कर दें और अपना आशीर्वाद रूपी एक प्यारा सा कमेंट जरूर करें. धन्यवाद्.

भारत की आर्मी में कार्यरत था पाकिस्तान का आतंकी जासूस. पकिस्तान को पहुंचाई कई गोपनीय जानकारी.

 

नमस्कार दोस्तों, 

भारतीय सेना का एक जवान दे रहा था देश को धोका. जांच करने पर निकला पाकिस्तान का जासूस. 

भारतीय सेना का एक जवान पाकिस्तान का जासूस निकला. उत्तर प्रदेश के मेरठ छावनी में भारतीय सेना की नौकरी करने वाला जवान को पकिस्तान के लिए जासूसी करते हुए पकड़ा गया है. पूछताछ में उससे काफी जानकारी हासिल की गयी है.

आरोपी सैनिक, मेरठ छावनी में सिग्नल मन के रूप में कार्यरत था. उसपर आरोप है की उसने पाकिस्तान के आईएसआई को पश्चिमी कमान बेस के तहत आने वाली डिवीज़न से जुड़ी तमाम जानकारिया साझा की है. यह पहली बार है जब किसी भारतीय जवान को मेरठ छावनी से पकिस्तान के लिए जासूसी करते हुए पकड़ा गया है.पकड़ा गया जवान उत्तराखंड का रहने वाला है. यह सैनिक पिछले दस महीनों से पकिस्तान के संपर्क में था. पकिस्तान के नंबरों पर लगातार बात करने से इसपर शक पैदा हुआ. तभी से इसपर नज़र राखी जा रही थी.

 

अब से लगभग तीन महीने पहले जब इसने पाकिस्तान से भारतीय आर्मी की ताजा ख़ुफ़िया जानकारी साझा की. तब इसपर आतंरिक जांच शुरू की गयी. आरोपी सैनिक तमाम जानकारी एन्ड तो एन्ड इन्क्रिप्शन के जरिये भेजता था और ज्यादातर जानकारी व्हाट्सप्प के जरिये साझा की गयी. इस मामले में सेना के अधिकारीयों ने अन्य जवानों से भी पूछताछ की है.

पकड़ा गया जवान पिछले १० सालों से भारतीय सेना में कार्यरत है. आरोपी ने और भी कई लोगों के नाम दिए है. अब आरोपी के खिलाफ कोर्ट ऑफ़ इंक्वायरी की जायेगी. सेना के अधिकारीयों ने अभी तक आरोपी जावन के नाम का खुलासा नहीं किया है.

दोस्तों, देशहित से जुड़ी अन्य तजा ख़बरों के लिए मुझे फॉलो करना न भूलें, आप सभी पाठकों से मेरा निवेदन है की जाते जाते अपना एक बहुमूल्य कमेंट जरूर करें. धयवाद.

सत्यलोक छोड़ जाना पड़ेगा जेल. संत रामपाल को हुई उम्रकैद की सजा.

नमस्कार दोस्तों.

सत्यलोक आश्रम के स्वामी जगत गुरु संत राम पाल जो की अपने भक्तों के लिए मुक्ति दाता कहलाते हैं. उन्हें हत्या के दो अलग अलग मामलों में दोसी पाया गया है और उम्र कैद की सजा सुनाई गयी है. जज ने जैसे ही सजा का ऐलान किया तो रामपाल फुट फुट कर रोने लगा. और घुटनों के बल बैठ गया.

रोता हुआ रामपाल जज से बोला – आप तो कबीर भक्त हैं, कुछ तो रहम कर देते, पर जज ने इस पर कुछ जवाब नहीं दिया और उठकर चले गए.

करत में सुनवाई शुरू होने से पहले खुद जज ने रामपाल को बताया था की वो कबीर के दोहे सुनते हैं. इसीलिए जब जज ने सजा का ऐलान किया तो रामपाल ने उन्हें यह बात याद दिलाई और रहम की गुहार लगायी. रामपाल ने कहा की आप कबीर भक्त होते हुए इतनी कठोर सजा कैसे सुना सकते हैं.

गौरतलब है की सुनवाई के लिए जेल परिसर में ही विशेष अदालत लगाई गई थी, जहाँ जज ने सुनवाई के बाद सजा का ऐलान किया. इससे पहले भी हत्या के पांच अन्य मामलों में रामपाल को  उम्रकैद की सजा सुनाई जा चुकी है. जेल पहोचते ही राम पाल को एक नयी पहचान मिल गई है. अब वह कैदी नंबर १००५ के नाम से जाना जायेगा.

जेल पहुँचते ही रामपाल को मिला एक नया काम. जेल प्रशासन ने रामपाल को सब्ज़ी उगाने का काम दिया है. उसे जेल के पर्यावरण को सुधरने के लिए फूलपौधे उगाने और उनके देखभाल करने की जिम्मेदारी दी गई है. राम पल सहित इस मामले में कुल १५ अन्य लोगों को भी उम्र कैद की सजा हुई है.

अब देखते हैं की नयी पहचान और नयी ज़िदगी में कैसे ढल पाते हैं रामपाल या फिर कैदियों के बीच करेंगे सत्संग.

दोस्तों यदि आपने अभी तक मेरे न्यूज़ को फॉलो नहीं किया है तो जरूर कर दें. और आपकी एक कीमती कमेंट से मुझे  कृतार्थ करें. धन्यवाद्.

जनता की मांग और पार्टी तथा विपक्ष के दबाव के चलते एम् जे अकबर को देना पड़ा इस्तीफा

नमस्कार दोस्तों,

#मीटू कैंपेन के तहत महिला पत्रकार के साथ दुर्व्यवहार मामले में फंसे केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री ने आज अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. बीजेपी के केंद्र में आने के बाद से यह पहली बार है की मोदी सरकार के किसी मंत्री ने खुद पर लगे आरोपों के बाद अपने पद से इस्तीफा दिया है.

आपको बता दें की एम् जे अकबर अपना इस्तीफा देने से पहले तक देश के केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री के पद पर आसीन थे. #मीटू कैंपेन के तहत अब तक उनपर २० से अधिक महिला पत्रकारों ने दुर्व्यवहार एवं उत्पीड़न का आरोप लगाया था जिसके बाद अब यह मामला कानूनी लड़ाई का रूप ले चुकी है. हलाकि अभी इस मामले की पहली सुनवाई भी नहीं हुयी है. अदालत ने इस मानले की पहली सुनवाई के ली १८ अक्टूबर का दिन मुक़र्रर किया है. पर सुनवाई से पहले ही पद की गरिमा को देखते हुए उनपर लगे आरोपों के बाद उनसे लगातार इस्तीफे की मांग की जा रही थी. यही वजह है की आज एम् जे अकबर को अपने विदेश राज्य मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा.

#मीटू कैंपेन के तहत एम् जे अकबर पर पहला आरोप वरिष्ठ पत्रकार प्रिया रमानी ने लगाया था. जिसमे उन्होंने कहा था की होटल के कमरे में एक इंटरव्यू के दौरान एम् जे अकबर ने उनके साथ अभद्रता की और अनैतिक कार्य किया. प्रिय रमानी द्वारा लगाए गए आरोप के बाद एम् जे अकबर इस तरह के मामलों की बाढ़ आ गयी. उनपर अबतक २० से अधिक लोगों ने दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है.

अकबर पर तजा आरोप एक विदेशी पत्रकार ने लगाया है. विदेशी महिला ने आरोप लगाते हुए कहा की जब वो २००७ में इंटर्नशिप के लिए इंडिया आयी थी तो वो केवल १८ साल की थी और उनके साथ एम् जे अकबर ने गलत हरकत करने की कोशिश की.

yah पहली बार है की मोदी सर्कार की किसी मंत्री ने किसी आरोप में घिरने के बाद इस्तीफा दिया हो. इस्तीफे से पहले अजित डोभाल ने उनसे मुलाकात की थी और फिर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को इसकी सुचना दी गयी. एम् जे अकबर ने अपने ऊपर लगाए गए सभी आरोपों को सिरे से ख़ारिज करते हुए कहा है की उन्हें न्याय प्रक्रिया पर भरोसा है और सच बहोत जल्द सबके सामने आ जायेगा.

दोस्तों देश और दुनिया के ताज़ा खबर अपने मोबाइल पर पाने के लिए इस न्यूज़ को फॉलो करना न भूलें. धन्यवाद्.

अपने घर बुलाकर दोस्त ने ही कर दी मॉडल की हत्या, जानिये क्या थी हत्या की वजह

नमस्कार दोस्तों,

आज सुबह सुबह हत्या का एक अजीब केस सामने आया है. जिसकी हत्या हुयी वह कोई आम लड़की नहीं बल्कि एक जानी मानी मॉडल है.

मुंबई में २० साल की मॉडल मानसी दीक्षित की हत्या के मामले में मुंबई पुलिस ने कहा है कि आरोपी दोस्त के घर से उन्हें खून से सनी हुयी एक बेडशीट मिली है, जिसका इस्तेमाल हत्या के लिए किया गया था. टीओआई कि रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने यह भी दवा किया है कि आरोपी मुज्जमिल सैयद घटना के बाद घर पहुंच कर सबूत मिटने कि कोशिश कर रहा था.

 

 

बुधवार को मुंबई के मलाड में एक बंद सुटकेश के अंदर से मुंबई पुलिस को मॉडल कि लाश मिली. पुलिस जांच में सामने आया है कि आरोप मुज्जम्मिल सैयद ने मोडल को अपने घर बुलाकर उसकी हत्या कि थी. दोस्त सैयद ने अपने घर में ही इस हत्या कांड को अंजाम दिया और फिर मॉडल कि डेडबॉडी एक सूटकेश में बंद करके मुंबई के मलाड इलाके में फेंक दिया.

मुंबई पुलिस ने कहा कि जिस फ्लैट में हत्या हुयी वह मुजरिम के पिता के नाम पर है. मुजरिम के पिता मर्चेंट नेवी में काम करता है. आरोपी लाश से भरी सूटकेश को लेकर एक कैब से मलाड पहुंचा. हलाकि उसने कैब एयरपोर्ट के लिए बुक कि थी. सूटकेश फेंकने के बाद आरोपी कैब छोड़कर आटोरिक्शा से भाग गया. पुलिस ने कैब ड्राइवर से जानकारी मिलने के बाद ऑटो को ट्रेस कर लिया. कैब ड्राइवर ने शक होने पर पुलिस को सुचना दी. सुचना मिलने के कुछ ही घंटों बाद पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया.

 

 

मानसी राजस्थान कि रहे वाली थी और मुंबई आकर मॉडलिंग तथा फिल्मों में अपना करियर बनाने का प्रयास कर रही थी. मानसी ने कुछ ऐड और शार्ट फिल्मों में एक्टिंग भी किया था.

दोस्तों, देश और दुनिया के मनोरंजन एवं अपराध से जुडी हर घटना कि जानकारी सीधे आपके मोबाइल पर पहुंचे इसके लिए आप मुझे फॉलो करें और कमेंट करना न भूलें. धन्यवाद्.