राहुल गांधी पलटे अपनी ज़ुबान से. पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ किया धोखा.

Third party image reference
नमस्कार दोस्तों,
दोस्तों जैसा की आप सभी जानते हैं की अभी पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. जिनमे से एक राजस्थान भी है. राजस्थान में कई बार अपने भाषण के दौरान कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी का एक बयां बहोत ही लोकप्रिय हुआ था की वे कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की तरफ से दिल्ली में उनके लिए इन्साफ करने बैठे हैं. किसी भी पैराशूट उम्मीदवार को कांग्रेस टिकट नहीं देगी. अगर कोई पैराशूट से आएगा तो वे २०० किलोमीटर दूर से ही उस पैराशूट की रस्सी काट देंगे. तब राहुल गांधी के इस बाड़े पर कांग्रेस कार्यकर्ता झूमकर ताली बजाते थे. और नारेबाजी भी करते थे.पर गुरुवार देर रात कांग्रेस के उम्मीदवारों की सूची जारी हुई तो इस सूचि ने राहुल गांधी के झूठे वादों की सारी पोल खोल दी. कांग्रेस के उम्मीदवारों की इस सूची में छः पैराशूट उम्मीदवारों के नाम भी शामिल पाए गए. 
कांग्रेस के उम्मीदवारों की इस सुची को देखते ही सभी पार्टी कार्यकर्ताओं ने हंगामा सुरु कर दिया. सभी पार्टी सदस्य राहुल से यह सवाल कर रहे हैं की उन वादों का क्या हुआ जो आप चुनावी सभाओं में दिए गए भाषण में कर रहे थे. 
आइये जानते हैं की कौन हैं कांग्रेस के पैराशूट उम्मीदवार.
1 . हबीबुर्ररहमान: नागौर से विधायक हबीबुर्ररहमान कांग्रेस लिस्ट जारी होने से 24 घंटे पहले ही बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं. और नागौर से कांग्रेस ने उन्हें उम्मीदवार बना दिया.
2 . हरीश मीणा दौसा से बीजेपी के सांसद रहे हरीश मीणा को देउली उनियारा सीट पर उतारा गया है. हरीश मीणा ने भी एक दिन पहले ही बीजेपी छोड़ी थी.
3 . कन्हैयालाल झंवर: कांग्रेस के उम्मीदवारों की लिस्ट जारी होने से केवल पांच घंटे पहले ही कांग्रेस में शामिल होने वाले कन्हैयालाल झंवर को बीकानेर पूर्व से मैदान में उतारा गया है.
4 . सोना देवी बावरी : पिछली बार जमींदार पार्टी की टिकट पर विधायक बानी सोना देवी बावरी को इस बार कांग्रेस ने रायसिंघ नगर से अपना उम्मीदवार बनाया है.
5 . सवाईसिंह गोदारा : पूर्व आईपीएस अधिकारी रहीं गोदारा ने एक दिन पहले ही वीआरएस लिया और अब उन्हें कांग्रेस ने खींवसर से टिकट दिया है.
6 . राजकुमार शर्मा : नवलगढ़ के निर्दलीय विधायक राजकुमार शर्मा को भी कांग्रेस ने नवलगढ़ से अपना प्रत्यासी बनाया है.
क्या हुआ तेरा वादा ?
कांग्रेस की लिस्ट आते ही बीकानेर में पार्टी कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त विरोध शुरू कर दिया है. कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे बीडी कल्ला के टिकट काटने से नाराज उनके समर्थकों ने जमकर हंगामा मचाया और कुर्सियां तक जला दी. पिछले 15 सालों से कांग्रेस से सक्रिय राजनीति कर रहे पूर्व केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री नमोनारायण मीणा, देउली उनियारा से कांग्रेस का टिकट चाहते थे, लेकिन ऐन मौके पर उनके सगे भाई बीजेपी सांसद हरीश मीणा कांग्रेस में शामिल होकर वहां से टिकट ले उड़े. 
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं से एक और वादा किया था कि काम करने वालों को टिकट मिलेगा. राहुल ने कहा था कि पार्टी रिश्तेदारों को टिकट नहीं देगी. लेकिन पार्टी कि लिस्ट पर नज़र डालें तो यह पता चलता है कि पार्टी ने 15 नेताओं के रिश्तेदारों को मौका दिया है. जबकि बीजेपी ने भी 9 नेता पुत्रों को टि
कट दिया है.
हलाकि कांग्रेस ने इस बार सख्ती दिखाते हुए दो बार लगातार चुनाव हारने वालों को टिकट नहीं दिया है. साथ ही बीस महिलाओं को टिकट दिया है. कांग्रेस में चर्चा चल रही है कि इस लिस्ट को जारी करने में सारा दिमाग सचिन पायलट का है. लगभग 79 लोगों के टिकट बदलवाने में वे सफल हुए हैं. लेकिन फिर भी गहलोत सरकार में शामिल रहे 22 मंत्रियों और 6 संसदीय सचिवों को एक बार फिर से टिकट मिल गया है.
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s