महिला क्रिकेट : मिताली ने कोच पर लगाया खुद को अपमानित करने का आरोप।

Mithali Raj said coach Ramesh Powar insulted me during T20 World Cup

नमस्कार दोस्तों,

पूर्व कप्तान मिताली राज, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सबसे सफल बल्लेबाज हैं। टी-20 वर्ल्ड कप में लगातार दो अर्द्धशतक लगाने के बावजूद उन्हें सेमीफाइनल में बाहर बैठाया गया था।  कप्तान हरमनप्रीत के इस फैसले की काफी आलोचना हुई थी

 टी-20 वर्ल्डकप में हुई हार के बाद भारतीय महिला क्रिकेट में शुरू हुई कॉन्ट्रोवर्सी ने मंगलवार को पूर्व कप्तान मिताली राज के लिखे पत्र के मिलने के बाद और भी ज्यादा जोर पकड़ लिया है। पूर्व कप्तान मिताली राज का बीसीसीआई को लिखा एक पत्र सामने आया। इस पत्र में मिताली ने कोच रमेश पोवार पर उन्हें अपमानित करने का आरोप लगाया साथ ही प्रशासकों की समिति (सीओए) की सदस्य डायना एडुल्जी को पक्षपाती करार दिया। मिताली भारतीय महिला टीम की अब तक की सबसे कामयाब बल्लेबाज हैं।

 

मिताली राज को हाल ही में खत्म हुए टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में मौका नहीं दिया गया था, जबकि उन्होंने टूर्नामेंट में दो अर्द्धशतक लगाए थे। भारत यह मैच 8 विकेट से हार गया था। भारत को मिली इस हार के बाद से ही टीम में विवाद है। मिताली का कहना है कि सत्ता में बैठे कुछ लोग उनका क्रिकेट करियर तबाह करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग अपने पद का मेरे खिलाफ गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। जब इस मामले में रमेश पोवार से बात की गई तो पोवार ने मिताली के आरोपों पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है, अभी तक इस बात पर, एडुल्जी से संपर्क नहीं हो पाया है।

 

मिताली ने सबा और जौहरी को लिखा पत्र

मिताली ने इस संबंध में बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी और महाप्रबंधक (क्रिकेट ऑपरेशंस) सबा करीम को एक पत्र लिखा। इसमें उन्होंने कहा है, ‘20 साल के करियर में मैं पहली बार खुद को अपमानित, हतोत्साहित, निराश महसूस कर रही हूं। मैं यह सोचने पर मजबूर हूं कि जो लोग मेरा करियर तबाह करना चाहते और मेरा आत्मविश्वास तोड़ना चाहते हैं, उनके लिए मेरी देश को दी जाने वाली सेवाओं की कोई जरूरत नहीं है।’

 

कोच मुझे हर जगह अपमानित करते थे : मिताली

मिताली ने पत्र में ऐसी कई घटनाओं का जिक्र किया, जिनमें उन्होंने कोच रमेश पोवार द्वारा खुद को अपमानित किये जाने का दावा किया । मिताली ने लिखा, ‘उदाहरण के लिए, मैं जहां भी कहीं बैठती थी, वे उठकर चले जाते थे, नेट्स पर जब दूसरी बल्लेबाज अभ्यास कर रही होती थीं तो वे मौजूद रहते थे, लेकिन जैसे ही मैं बल्लेबाजी के लिए जाती वे वहां से चले जाते थे। यदि मैं उनसे बात करने की कोशिश करती तो वे अपने फोन में कुछ देखने लगते और वहां से निकल जाते। यह किसी के लिए भी शर्मनाक था। यह बिल्कुल स्पष्ट था कि मुझे अपमानित किया जा रहा था। इसके बावजूद मैंने कभी भी अपना धैर्य नहीं खोया।’ 

 

मैं हरमनप्रीत के खिलाफ नहीं : मिताली

उन्होंने लिखा, ‘मैं यह भी बताना चाहती हूं कि मैं टी-20 की कप्तान हरमनप्रीत के बिल्कुल भी खिलाफ नहीं हूं, सिवाय इसके छोड़कर कि उन्होंने आखिरी-11 से मुझे बाहर रखने के कोच के फैसले का समर्थन किया। वह फैसला समझ से परे था और टीम के लिए हानिकारक सिद्ध हुआ। मैं अपने देश के लिए वर्ल्ड कप जीतना चाहती हूं। कोच के फैसले से मैं दुखी हूं कि हमने एक सुनहरा मौका खो दिया।’

 

एडुल्जी ने मिताली का चयन नहीं करने के फैसले का बचाव किया था

मिताली ने पत्र में डायना एडुल्जी को भी पक्षपाती बताया। एडुल्जी ने मिताली के नहीं चुने जाने के फैसले का बचाव किया था। एडुल्जी ने कहा था कि  मिताली को बाहर रखने के फैसले पर सवाल नहीं उठाए जा सकते, बल्कि वह दिन भारतीय टीम के लिए खराब था। एडुल्जी महिला क्रिकेट टीम की कप्तान रह चुकी हैं। 

 

मैंने एडुल्जी को सारी सच्चाई बताई थी

मिताली ने लिखा, ‘मैंने डायना एडुल्जी में हमेशा विश्वास जाहिर किया है। सीओए की सदस्य के तौर पर मैंने हमेशा उनकी इज्जत की है। मैंने कभी नहीं सोचा था कि वे मेरे खिलाफ अपने पद का इस्तेमाल करेंगी। वह भी यह सुनने के बाद कि वेस्टइंडीज में मुझे क्या करना है. क्योंकि इस संबंध में मैंने उनसे खुलकर चर्चा की थी। लेकिन उन्होंने मीडिया में टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में मुझे बेंच पर बैठाने के फैसले का जोरदार समर्थन किया। इस बात ने मुझे बहुत परेशान किया, क्योंकि मैंने उन्हें वास्तविक तथ्यों से अवगत कराया था।’


कहां से शुरू हुआ था विवाद
1- टी-20 वर्ल्डकप में न्यूजीलैंड के खिलाफ मिताली टीम में थीं, लेकिन पांच बल्लेबाजों के आउट होने के बावजूद उन्हें बल्लेबाजी के लिए नहीं भेजा गया, जबकि टीम में वे ओपनर के तौर पर शामिल की गई थीं। इस मैच में हरमनप्रीत ने शतक लगाया था। भारत ने मैच जीता था।
2- पाकिस्तान के खिलाफ दूसरे मुकाबले में मिताली ने ओपनिंग की और 56 रन बनाए। हरमनप्रीत 14 रन पर आउट हो गई थीं। भारत ने ये मैच जीत लिया।
3- तीसरे टी-20 में आयरलैंड के खिलाफ भी मिताली ने फिफ्टी लगाई। हरमनप्रीत इस मैच में 7 रन ही बना पाई थीं। ये मैच भी भारत जीता था।
4- इसके बाद टीम ऑस्ट्रेलिया से भिड़ी। इस मैच में मिताली को बाहर रखा गया। मंधाना और हरमनप्रीत की बेहतर प्रदर्शन के बदौलत मैच भारत ने जीता।
5- इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल से भी मिताली को बाहर रखा गया। भारत 112 रन पर ऑल आउट हो गई। इंग्लैंड ने मुकाबला जीत लिया।
6- पांच मैच में से तीन में मिताली ने बल्लेबाजी नहीं की। इसके बावजूद वे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले टॉप-4 भारतीय बल्लेबाजों में रहीं। उन्होंने 2 मैचों में 107 रन बनाए। हरमनप्रीत ने पांचों मैच में बैटिंग की और 183 रन बनाए।
7- सेमीफाइनल मैच में मिताली को टीम से बाहर रखने पर विवाद शुरू हुआ।

Advertisements

आमिर खान ने खुद को ठहराया “ठग्स ऑफ़ हिन्दुस्तान” की नाकामी का ज़िम्मेदार

आमिर खान का छलका दर्द, 'ठग्स ऑफ हिन्दोस्तां' से निराश हुए दर्शकों के लिए कही यह बात; देखें Video 
नमस्कार दोस्तों,
दोस्तों, दीवाली के मौके पर आमिर खान की बहु प्रतीक्षित फिल्म ठग्स ऑफ़ हिन्दोस्तान को रिलीज़ किया गया पर इस फिल्म के ट्रेलर से दर्शकों ने इस फिल्म के बारे में जितनी बेहतर कल्पना की थी, यह फिल्म उस उम्मीद का आधी लोकप्रियता भी हासिल नहीं कर पाई. इस फिल्म से आमिर के प्रसंशक पूरी तरह से निराश हुए. मल्टी स्टार कास्टिंग, दमदार स्पेशल इफ़ेक्ट और बड़ी भरी बजट के बावजूद यह फिल्म औसत ही रही.
ये तो सभी जानते हैं की आमिर खान पुरे साल में केवल एक ही फिल्म लाते हैं और उनकी फिल्म परदे पर आते ही साल भर के सभी फिल्मों के सारे रिकार्ड्स तोड़ देती है, और कुछ ऐसा ही उम्मीद आमिर के प्रशंसकों  को उनके फिल्म ठग्स  ऑफ़ हिन्दुस्तान से भी था. पर यह फिल्म उनके दर्शकों को बिलकुल भी पसंद नहीं आई।
आपको बता दें की इस फिल्म में आमिर के साथ साथ सदी के महानायक अमिताभ बच्चन और अपने खूबसूरती से करोड़ों फिल्मदर्शकों का दिल जीतने वाली कटरीना कैफ भी इस फिल्म का हिस्सा हैं. पर इस दमदार स्टार-कास्ट के बावजूद यह फिल्म दर्शकों के दिल में जगह नहीं बना पाई।
 फिल्म में आमिर के किरदार में लोगों को पूरी फिल्म में हॉलीवुड फिल्म  “दी पाइरेट्स ऑफ़ कैरेबियन” के किरदार जैक स्पैरो  की झलक दिखाई दी यही वजह है की आमिर इस फिल्म में दर्शकों के दिल से जैक स्पैरो की छबि मिटा पाने में नाकाम रहे.

आमिर खान ने अपने मायुश प्रशंसकों से माफ़ी मांगी , “ठग्स ऑफ़ हिन्दुस्तान” की नाकामी के लिए खुद को  ज़िम्मेदार ठहराते हुए उन्होंने अपने सभी प्रशंषकों से इस फिल्म के लिए माफ़ी मांगते हुए कहा की फिल्म की  के निर्माण में उनसे जरूर कुछ गलती हुई है जिस वजह से दर्शकों को निराश लौटना पड़ा। आमिर ने कहा की हमने कोशिश करने में कोई कमी नहीं की पर हमसे जरूर कुछ ऐसी गलतियां हुई है जिसने इस फिल्म को नाकाम बनाया।

दोस्तों, बॉलीवुड से जुडी और ताजा ख़बरों के लिए खबर तहलका को सब्सक्राइब करना न भूलें।धन्यवाद्.

आज है सुरेश रैना का जन्म दिन, जानिये उनकी ये विशेषताएं।

Birthday: यह उपलब्धि हासिल करने वाले भारत के पहले क्रिकेटर थे सुरेश रैना, जानें 9 खास बातें

नमस्कार दोस्तों,

क्रिकेटर सुरेश रैना (Suresh Raina)  ने आज 27 नवंबर को अपना 32वां जन्म दिन मनाया . जन्‍मदिन (Birthday) पर पूर्व/वर्तमान क्रिकेटरों और उनके फैंस ने सुरेश रैना को उनके जन्म दिन की बधाई दी. सुरेश रैना ने भारत के लिए अब तक 18 टेस्‍ट, 226 वनडे और 78 टी20 मैच खेले हैं. टेस्‍ट क्रिकेट के मुकाबले रैना, शॉर्टर फॉर्मेट के  जबर्दस्‍त खिलाड़ी माने जाते है. कई मौकों पर रैना अपने तूफानी पारी के बदौलत भारतीय टीम को जीत दिला चुके हैं. सुरेश रैना की गिनती टीम इंडिया के सर्वश्रेष्‍ठ फील्‍डरों में की जाती थी. रैना क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में शतक जमाने वाले भारत के पहले बल्‍लेबाज थे. रैना इस समय भारतीय टीम से बाहर हैं लेकिन उनके प्रशंसकों को उम्‍मीद है कि उनमें अभी भी क्रिकेट बाकी है और वे टीम इंडिया में वापसी करने में कामयाब रहेंगे. 

आइए जानते है सुरेश रैना  के व्यक्तित्व और उनके खेल जीवन से जुडी कुछ दिलचस्प बातें। 

1. सुरेश रैना (Suresh Raina)  का जन्‍म 27 नवंबर 1986 को मुरादनगर, गाजियाबाद में हुआ था. सुरेश रैना भारतीय सेना में रह चुके हैं.रैना का परिवार मूल रूप से जम्‍मू-कश्‍मीर का है.

2. रैना ने जुलाई, 2005 में दाम्‍बुला में श्रीलंका के खिलाफ वनडे खेलकर अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज किया था. अपना पहला टेस्‍ट मैच उन्‍होंने जुलाई, 2010 में श्रीलंका के खिलफ और पहला टी20 मैच दिसंबर 2006 में जोहान्सबर्ग में खेला था.

3. रैना के वनडे करियर का आगाज काफी निराशाजनक रहा था और अपनी पहली ही गेंद पर वे श्रीलंका के ऑफ स्पिनर मुरलीधरन की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू हो गए थे पर वहीँ दूसरी ओर, उनका टेस्‍ट करियर का आगाज धमाकेदार रहा. अपने डेब्‍यू टेस्‍ट में रैना ने शतक बनाया. श्रीलंका के खिलाफ अपने पहले टेस्‍ट में उन्‍होंने 120 रन की जोरदार पारी खेली.

4. सुरेश रैना (Suresh Raina) क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट (टेस्‍ट, वनडे और टी20I) में शतक जमाने वाले भारत के पहले बल्‍लेबाज रहे. उनके बाद केएल राहुल और रोहित शर्मा भी यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं.

5. सुरेश रैना ने अब तक 18 टेस्‍ट में 26.48 के औसत से 768 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और सात अर्धशतक भी शामिल हैं. अब तक खेले गए 226 वनडे मैचों में उन्‍होंने 5615 रन बनाए हैं, जिसमें पांच शतक और 36 अर्धशतक हैं. रैना ने भारत के लिए अब तक 78 टी20 मैच खेले हैं और 29.18 के औसत से 1605 रन बनाए हैं. इसमें एक शतक और पांच अर्धशतक शामिल हैं.

6. शॉर्टर फॉर्मेट में अपनी ऑफ स्पिन गेंदबाजी और जोरदार फील्डिंग से भी रैना टीम के लिए उपयोगी साबित होते रहे हैं. वनडे मैचों में वे 36 और टी20 मैचों में भारत के लिए 13 विकेट ले चुके हैं. टेस्‍ट क्रिकेट में भी रैना के नाम पर केवल 13 विकेट ही दर्ज हैं.

7. पूर्व कप्तानमहेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्‍व में जिस भारतीय टीम ने वर्ष 2011 में वर्ल्‍डकप जीता था,सुरेश रैना भी इस वर्ल्डकप विजेता टीम का हिस्सा थे.  इस टूर्नामेंट में रैना ने कुछ बेहतरीन पारियां खेली थीं.

दोस्तों,  खेल और मनोरंजन से जुड़ी अन्य आजा खबर के लिए खबर तहलका को सब्सक्राइब करना न भूलें धन्यवाद्। 

30 नवंबर को ख़त्म हो जाएगा कलर्स टीवी पर प्रसारित होने वाला आपका पसंदीदा टीवी सीरियल बेपनाह।

bepana hua out of air

नमस्कार दोस्तों,

दोस्तों, अबसे कुछ ही दिन पहले कलर्स टीवी के सबसे चर्चित टीवी सीरियल  ‘बेपनाह’ के ख़त्म होने की अफवाह उड़ी थी पर इस शो के मेकर्स ने इसकी  लोकप्रियता को देखते हुए इस शो को जारी रखने का फैसला लिया था। आपको बता दें की कलर्स पर एक समय में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला यह टीवी शो कुछ महीनों से लगातार अपने टीआरपी को लेकर मंदी  से जूझ रहा है। 

कलर्स पर सबसे चर्चित यह शो अब अपनी टीआरपी में आई गिरावट की भेंट चढ़ने वाला है। यह शो इसी महीने की आखरी तारीख याने की 30 नवंबर को अपनी कहानी समेटते हुए बंद हो जाएगा। जेनिफर विगेन्ट और हर्षद चोपड़ा स्टारर यह शो अपनी रोमांटिक कहानी और अपने अलग अलग ट्रैक्स को लेकर काफी फेमस हुआ था। 

टीवी सीरियल “बेपनाह” आदित्य और जोया नामक दो प्रेमी युगल की कहानी है। इस प्रेम कहानी के किरदारों की जिंदगी में समय समय पर कई बदलाव देखे गए। शो के बंद होने की  ठहराते हुए जेनिफर विगेंट का एक पोस्ट सामने आया है, इस पोस्ट में जेनिफर ने लिखा है की सभी अच्छी चीजों का अंत होता है। और इसी प्रकार हमारे  प्यारे  बेपनाह  सीरियल का भी अंत हो रहा है। मुझे अपने सभी फैंस के साथ यह सच साझा करते हुए बहोत दुःख का अनुभव हो रहा है, पर क्या कर सकते हैं इस पर किसी का बस नहीं है।  कुछ सफर बहोत छोटे लेकिन काफी अमूल्य होते हैं ताकि आने वाले समय में कुछ इससे बे अच्छा और सार्थक आ सके। उन्होंने सेट पर बिताये गए अपने अनमोल पलों  और  अपने को-स्टार्स के साथ हुई मस्ती के पलों को याद किया। उन्होंने आगे लिखते हुए कहा है की इश्क़ के इम्तेहान अभी और भी बाकी हैं। 

उनकी पूरी पोस्ट और पोस्ट के साथ शेयर किया गया वीडियो आप निचे दिए लिंक से देख सकते हैं।

View this post on Instagram

All good things come to an end and so the curtains will soon fall on our beloved, Bepannaah, you cant help but feel sad together with all fans of the show. The last thing we want is to disappoint you but certain journeys are best short therefore even more meaningful and fulfilling. Bepannaah has left its own special trail and as it gears to close, i stand with gratitude for a stellar star cast @harshad_chopda @namita_dubey @rajesh_khattar @sehban_azim @vaishnavidhanraj @shweta.shwets @apurvaagnihotri02 @shehzadss @iqbal.azad @aaryaasharma @aanchalgoswami55 @parineetaborthakur @mallika453 @itstahershabbir and the crazy times we’ve shared on set and for the opportunity to be your Zoya! Time really flies by but the love that our fans have bestowed on us has been tremendous all through and overwhelming to say the least. Rest assured, I will be back after a short break with something new and even more exciting so humbly request that you respect that a new beginning follows after every ending. Stay tuned for an all new avataar of your’s truly. Finally, @aniruddha.rajderkar @naihal.bagora you guys created a gem of show and this is just the beginning. Ishq ke imtihaan aur bhi baaki hai !:) Thank you Cinevista, my home away from home. Thank you for always trusting me blindly and having faith in me. This is bittersweet, but my heart will always belong here. #Bepannaah ❤️

A post shared by Jennifer Winget (@jenniferwinget1) on

दोस्तों, इसी तरह की अन्य मनोरंजक ख़बरों से जुड़े रहने के लिए मुझे फॉलो/सब्सक्राइब करना न भूलें धन्यवाद्।