21 दिसंबर : जानिये आज के दिन घाटी सभी महत्वपूर्ण ऐतिहासिक घटनायें।

Image result for aaj ka itihasनमस्कार दोस्तों,

 

दोस्तों, यदि हम इतिहास के पन्नों को पलट कर देखें तो हर दिन और तिथि पर इतिहास में कुछ न कुछ महत्वपूर्ण घटनाओं का ज़िक्र निकल आएगा। एक बेहतर भविष्य बनाने के लिए अपने अतीत को जानना और उनसे सीखना बहोत जरुरी है। तो आइये जानते है की इतिहास में आज के दिन कौन कौन सी महत्वपूर्ण घटनाएं घटी हैं। 

 

कमरे में साथी एंकर, खाली शराब की बोतलें और न्यूज़ एंकर की संदिग्ध मौत। जानिये पूरी खबर।

प्रमुख घटनाएँ

 

साल 1784 को 21 दिसंबर के दिन जॉन जे नामक सख्स को अमेरिका का पहला विदेश मंत्री बनाया गया था। 

साल 1898 को आज ही के दिन रसायन शास्त्री पियरे और मेरी क्यूरी ने रेडियम की खोज की थी। 

सन 1910 में 21 दिसंबर के दिन इंग्लैंड के हुल्तान में कोयला खदान में हुए विस्फोट में 344 श्रमिकों की मौत हो गई थी।

1914 को 21 दिसंबर के ही दिन अमेरिका में पहली मूक हास्य फ़ीचरफिल्म “तिल्लीस पंचर्ड रोमांस” रिलीज हुई थी।

1921 में आज ही के दिन अमेरिकी उच्चतम न्यायलय ने धरना प्रदर्शन और काम रोकने को असंवैधानिक घोषित कर दिया था।

 

महिला ने गूगल पर किया एक सर्च और खाते से उड़ गए एक लाख रुपये।

 

1923 को 21 दिसंबर के दिन ब्रिटेन के संरक्षित राज्य के दर्जे से मुक्त होकर नेपाल पूर्ण स्वतंत्र देश बना।

1931 में आज ही के दिन अर्थर वेन का बनाया दुनिया का पहला क्रॉसवर्ड न्यूयॉर्क वर्ल्ड अख़बार में प्रकाशित हुआ था।

साल 1937 में 21 दिसंबर के ही दिन रंगीन चित्रों और आवाज वाली पहली कार्टून फिल्म – डिगनीस स्नो व्हाइट का प्रदर्शन किया गया था।

1949 को आज ही के दिन पुर्तगाली शासकों ने इंडोनेशिया को संप्रभु राष्ट्र घोषित किया था।

साल 1952 को 21 दिसंबर के दिन सैफुद्दीन किचलू तत्कालीन सोवियत संघ का लेनिन शांति पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय थे।

 

आईपीएल में धूम मचाने आ रहा है यह रिकॉर्डधारी युवा खिलाड़ी.

 

1962 में आज ही के दिन अमेरिकी राष्ट्रपति जॉन ऍफ़ केनेडी और ब्रितानी प्रधानमंत्री हैरल्ड मैकमिलन ने बहामास  बातचीत के बाद एक बहुआयामी नैटो परमाणु बल बनाने का फैसला किया था।

1962 – अमरीकी राष्ट्रपति जॉन एफ़ कैनेडी और ब्रितानी प्रधानमंत्री हैरल्ड मैकमिलन ने बहामास में बातचीत के बाद एक बहुआयामी नैटो परमाणु बल बनाने का फैसला किया।

आज ही के दिन साल 1922 में एतुबवा अम्रम जन्म हुआ था जो की एक नॉर्बिआई पादरी और राजनेता थे।

साल 2011 में आज ही के दिन  पी के अयंगर का निधन हुआ था जो की देश के प्रसिद्ध न्यूक्लियर फिजिसिस्ट थे।

 

 

राफेल डील पर मोदी ने सुप्रीम कोर्ट से बोला झूठ, पकड़े जाने पर कहा सुप्रीम कोर्ट की समझ में गलती।

 

दोस्तों आपको यह जानकारी कैसी लगी मुझे कमेंट करके जरूर बताएं और इस न्यूज़ को फॉलो / सब्सक्राइब करना न भूलें, धन्यववाद। 

Advertisements